कालिंजर के राजा कीर्तिसिंह चंदेल के घर 5 अक्टूबर 1524 को दुर्गाष्टमी पर एक कन्या का जन्म हुआ,जिसका नाम दुर्गावती रखा गया। मुगल सेना के पसीने छुड़ाने वाली वीरांगना “रानी दुर्गावती” की शौर्य गाथा…