स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री मनसुख मांडविया ने यूनीसेफ की ग्‍लोबल फ्लैगशिप रिपोर्ट जारी की, बच्‍चों के मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य पर कोविड महामारी का व्‍यापक असर


केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने आज नई दिल्‍ली में बच्‍चों के मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य से संबंधित एक रिपोर्ट जारी की। संयुक्‍त राष्‍ट्र बाल कोष द्वारा प्रकाशित इस रिपोर्ट में बच्चों के

मानसिक स्वास्थ्य पर कोविड महामारी के प्रभाव का विवरण दिया गया है। इस अवसर पर स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने कहा कि हालांकि मानसिक स्वास्थ्य एक पुराना मामला है लेकिन इसमें कई नये मुद्दे भी सामने आये हैं। उन्होंने कहा कि पूरे समाज के लिए कोविड मानसिक तनाव की एक कड़ी परीक्षा थी। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने कहा कि एक स्वस्थ समाज के निर्माण के लिए मानसिक स्वास्थ्य पर ध्‍यान दिया जाना बहुत आवश्‍यक है। उन्होंने कहा कि माता-पिता और परिवार के साथ मानसिक स्वास्थ्य संबंधित मुद्दों से निपटने के लिए शिक्षकों की भूमिका भी बहुत महत्वपूर्ण है।

रिपोर्ट के अनुसार, भारत में 15 से 24 वर्ष आयु वर्ग के के लगभग 14 प्रतिशत लोगों ने अक्सर उदास महसूस करने या काम करने में कम रुचि होने की बात कही है।