*

सारनी।प्रदेश के यशस्वी और संवेदनशील मुख्यमंत्री शिवराज सिंह जी के आवाहन पर हर वार्डों में क्राइसिस मैनेजमेंट समिति का गठन किया गया । नगरी क्षेत्र सारणी में आज वार्ड स्तर की प्रथम बैठक विभिन्न वार्डो में संपन्न कराई गई ।जिसमे वार्ड क्रमांक 35 की क्राइसिस मैनेजमेंट की बैठक में वॉड प्रभारी राम करन,सांसद प्रतिनिधी प्रकाश शिवहरे, कमलेश ठाकरे गणेश पवार,महिला एवं बाल विकास विभाग एव स्वास्थ विभाग के कर्मचारियों की उपस्थिति में वॉड में कोविड -संक्रमण पर काबू पाने के लिए बैठक संपन्न हुई।
वार्ड स्तर की आपदा प्रबंधन समूह की बैठक में भाजपा के मंडल महामंत्री व सांसद प्रतिनिधी प्रकाश शिवहरे ने कहाँ की मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश पर घर घर जाकर कोविड-19 लक्षण सर्दी खासी बुखार के मरीजों को चिन्हित करने का काम महिला एवं बाल विकास के साथ स्वास्थ्य विभाग के कार्यकर्ताओं द्वारा किया जा रहाँ है। आज वर्तमान तक की स्थिति में सर्वेक्षण करने वाले कार्यकर्ताओं के पास पल्स-ऑक्सीमीटर,थर्मामीटर नही है मेरे विचार से वार्डों में सर्वे करने वाली टीम के पास स्वास्थ्य उपकरण आवश्यक रूप से रहने चाहिए । इसके अतिरिक्त कोविड-19 के लक्षण सर्दी खांसी बुखार के मरीजों को सर्वे के दौरान स्वास्थ्य विभाग एवं महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा दवाइयों की किट दी जा रही है ।जिन भी परिवारों में स्वास्थ्य विभाग द्वारा दवाइयों की किट दी जा रही है ऐसे परिवारों को चिन्हित कर उसका रिकॉर्ड रखें एवं उन परिवारों का कोविड-19 अनिवार्य रूप से कराया जाए।
एवं कुछ दिनों से देखने में आ रहा है कि निजी कोविड- केयर द्वारा मरीजों को कुछ दिन उपचार उपरांत डिस्चार्ज किया जाता है,डिस्चार्ज उपरांत कोविड -पीड़ित मरीज के परिजन वार्डों में घूमने लग जाते हैं निजी चिकित्सालय द्वारा कोविड-19 मरीजों को डिस्चार्ज करने पर उसकी जानकारी शासन को दी जानी चाहिए जिससे कि जमीनी स्तर पर ऐसे कोविड-19 से पीड़ितों को चिन्हित कर उनके घर को कंटेनमेंट जोन बनाकर परिवार कि निगरानी की जा सके।