*नौ सूत्रीय मांगों को लेकर पेंशनर्स ने सौंपा ज्ञापन*

*जितेन्द्र निगम – चिचोली*

*पेंशनर एसोसिएशन की ब्लॉक ईकाई की ओर से पेंशनर्स ने अपनी 9 सूत्रीय मांगों को लेकर बुधवार को तहसील कार्यालय पहुंचकर मुख्यमंत्री के नाम तहसीलदार ओम प्रकाश चोरमा को ज्ञापन सौंपा. ज्ञापन में उल्लेख किया गया है कि प्रदेश में 4:50 लाख पेंशनर अपना न्यायोचित मांगों के लिए लगातार मुख्यमंत्री से ज्ञापन के माध्यम से निराकरण किए जाने की मांग करते आ रहे हैं लेकिन मुख्यमंत्री पेंशनरों की मांगों को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं. पेंशनर्स ने बताया कि उनकी प्रमुख मांगों मे जुलाई 2019 से लंबित महंगाई राहत स्वीकृत कराने, शासकीय कर्मचारी की तरह पेंशनर को मृत्यु उपरांत उपादान एग्रोसिया रुपए 50,000 प्रदान किया जाने, सातवें वेतनमान जनवरी 2016 से मार्च 2018 तक 27 माह का छठवें वेतनमान का 32 माह का एरियर्स भुगतान किए जाने , मध्य प्रदेश छत्तीसगढ़ पुनर्गठन अधिनियम 2000 की धारा 49 को अविलंब विलोपित करने , नई पेंशन योजना बंद कर पुरानी पेंशन योजना पुनःलागू की करने , पेंशनर्स को वर्तमान में 80 वर्ष पूरे होने पर 20% की वृद्धि की जाती है जो अब 70 वर्ष की आयु होने पर 20% की वृद्धि करने , राज्य पेंशनर्स को प्रतिमाह केंद्रीय पेंशनर्स की भांति कम से कम 1000 रूपए चिकित्सा भत्ता भुगतान करने, वन रैंक वन पेंशन का नियम लागू करने एवं कोरोना महामारी संकटकाल में पेंशनर्स को आर्थिक राहत दिए जाने की मांग की गई है. ज्ञापन सौपते समय एसोसिएशन के ब्लॉक अध्यक्ष मिश्रीलाल माचीवार , उपाध्यक्ष टीकाराम सोलंकी, सचिव प्रदीप कुमार जैन, प्रचार मंत्री मुरली कुमार आर्य, किशन लाल सोनी, एसएस दुबे , वीरेंद्र आर्य ,बरबडे जी आदि उपस्थित रहे.*