*नाभी पर कौन से तेल लगाने से कौन कौन से फायदे होते है*

नवीन वागद्रे

नाभि को शरीर का केंद्रीय बिंदु माना जाता है। इससे हमारे शरीर का तंत्रिका तंत्र जुड़ा होता है। क्या आपको पता है की ऐसी कई छोटी-बड़ी स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याएं हैं जिन्‍हें नाभि के जरिए ठीक किया जा सकता है। सिर्फ नाभि पर तेल लगाने से कई रोगों से छुटकारा पाया जा सकता है। इस वीडियो में हम आपको बताने वाले हैं कि नाभि पर कौन-सा तेल लगाने से क्‍या लाभ मिलते है।
हमारे घर में ही बीम‍ारियों से बचने के कई तरीके मौजूद हैं जिनमें से एक नाभि पर तेल लगाना भी शामिल है। भारत में तेल मालिश को पारंपरिक चिकित्‍सा का एक महत्‍वपूर्ण हिस्‍सा माना जाता है और आज भी ये चिकित्‍सा अनेक बीमारियों से बचाने और लड़ने में कारगर है।
आपने अब तक तेल से शरीर या सिर की मालिश के बारे में ही सुना होगा लेकिन आपको बता दें कि नाभि पर भी तेल लगाने से आप स्‍वस्‍थ और निरोगी बन सकते हैं। जी हां, नाभि को हमारे शरीर का वो चमत्‍कारिक बिंदु है जिसकी मदद से कई बीमारियों से छुटकारा पाया जा सकता है।
नाभि पर तेल लगाने का नुस्‍खा काफी आसान भी है और इसके कई फायदे भी हैं। लेकिन इससे पहले हम ये जान लेते है कि नाभि पर कौन-सा तेल लगाने से क्‍या लाभ मिलता है।

​ बादाम का तेल
अक्‍सर तनाव, काम के बोझ या ठीक तरह से त्‍वचा की देखभाल न करने की वजह से चेहरा बेजान और मुरझाया हुआ लगने लगता है। इस समस्‍या को बादाम तेल से ठीक किया जा सकता है। अगर आप कम समय में चमकदार चेहरा पाना चाहते हैं तो अपनी नाभि पर बादाम तेल लगाएं। बादाम तेल बालों के लिए ही नहीं बल्कि त्‍वचा के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है।
सरसो का तेल
अक्‍सर फटे होंठों के कारण शर्मिंदगी उठानी पड़ती है। कुछ लोगों के तो हमेशा ही होंठ फटे रहते हैं। अगर आप भी फटे होंठों से छुटकारा पाना चाहते हैं तो रोज अपनी नाभि पर सरसों का तेल लगाएं। ऐसा करने से फटी एडियों और रूखी त्‍वचा की परेशानी भी दूर होगी।
जैतून या नारियल का तेल
भारत में हर घर में नारियल तेल का इस्‍तेमाल किया जाता है। कोई बालों में नारियल तेल लगाता है तो कोई खाना पकाने में नारियल तेल का प्रयोग करता है। नाभि पर नारियल तेल की 3 से 7 बूंदें लगाने से प्रजनन क्षमता बढ़ती है, कमजोरी और बालों में रूखेपन के साथ-साथ आंखों में सूखेपन की समस्‍या से भी निजात मिलेगी।
आजकल ज्‍यादातर लोग मोटापे से ग्रस्‍त हैं। अगर आप भी मोटापे से परेशान हैं और इसे कम करने का कोई आसान तरीका खोज रहे हैं तो अब आपकी खोज खत्‍म हुई। नाभि पर जैतून का तेल लगाने से मोटापे और जोड़ों में दर्द से राहत मिलती है। रात को सोने से पहले जैतून के तेल से नाभि की मालिश करें। इस उपाय से कुछ ही दिनों में मोटापे और जोड़ों में दर्द की परेशानी से राहत मिलेगी।
नाभि में तेल लगाने से पुरुषों के शरीर में शुक्राणुओं की वृद्धि और सुरक्षा होती है।

– माहवारी से संबंधित समस्याओं से आजकल हर दूसरी-तीसरी महिला ग्रस्त मिलती है। अगर पीरियड्स के दौरान ज्यादा दर्द हो तो रूई के फाहे में थोड़ी सी ब्रांडी लगाकर नाभि में लगाने से ये दर्द तुरंत दूर हो जाता है।

*​नाभि पर तेल लगाने का तरीका*

नाभि में और इसके आसपास तेल की कुछ बूंदें डालें। आप रूई के फाहे में तेल की कुछ बूंदें डालकर उसे नाभि में लगा सकते हैं। इसे कम से कम 20 मिनट के लिए लगा रहने दें।

*नाभि पर तेल लगाने से क्‍या होता है*

दरअसल, नाभि के पीछे पेकोटि ग्रंथि पाई जाती है। ये पेकोटि ग्‍लैंड शरीर की कई नसों, ऊतकों और अंगों से जुड़ी होती है। इस प्रकार पेकोटि ग्रंथि बहुत शक्‍तिशाली होती है।

*नाभि पर तेल लगाने पर पेकोटि ग्रंथि के तेल को अवशोषित करने के बाद मानसिक और शारीरिक रूप से बेहतर महसूस होता है। आंखों की रोशनी बढ़ाने, तनाव दूर करने और पाचन में सुधार लाने जैसे लाभ नाभि पर तेल लगाने से मिलते हैं।*