जितेन्द्र निगम – चिचोली

कोरोना संक्रमण काल में जिले के आदिवासी अंचल में तेजी से फैलते संक्रमण से पीड़ित मानवता की सेवा के लिए एक युवा डॉक्टर ने ग्रामीण क्षेत्र को ही अपना कार्यक्षेत्र बनाने का निर्णय लिया है . महानगरों में सेवा के अनेक अवसरों को छोड़कर ग्रामीण क्षेत्र में सेवा करने का दृढ़ निश्चय करने वाले डॉक्टर विश्वजीत जायसवाल ने भीमपुर क्षेत्र के लोगों को चिकित्सकीय सेवाएं देने का बीड़ा उठाया है. चिचोली नगर में पले बढ़े वरिष्ठ चिकित्सक डॉ राजेश जायसवाल और समाजसेवी चिंता जायसवाल के बेटे विश्वजीत ने एमबीबीएस की डिग्री हासिल करने के बाद सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भीमपुर मे मेडिकल ऑफिसर के रूप में अपनी आमद दर्ज कराई है. डॉ विश्वजीत ने बताया कि उन्होंने राजधानी के एलएनसीटी मेडिकल कॉलेज से एमबीबीएस की डिग्री प्राप्त की है . उन्हें शहरी क्षेत्र में सेवा के अनेक अवसर मिले लेकिन उन्होंने अपने क्षेत्र के लोगों की ही सेवा करने का निश्चय किया है. डा. विश्वजीत चिचोली क्षेत्र के कद्दावर कांग्रेसी राजेन्द्र जायसवाल के नाती एवं वरिष्ठ पत्रकार सुधीर जायसवाल के भतीजे है. डा. विश्वजीत के भीमपुर क्षेत्र मे सेवा करने के निर्णय पर क्षेत्र के लोगों ने प्रसन्नता जाहिर करते हुए उन्हें बधाई दी हैं.