कोरोना की तीसरी लहर से सतर्क रहने घोड़ाडोंगरी रविवार को बंद रखने का फैसला कर रहे व्यापारी

घोड़ाडोंगरी । कुछ ऐसी ही स्थिति देखने को मिल रही है घोड़ाडोंगरी नगर में ।

कोरोना की तीसरी लहर से लोगों को बचाने और खुद भी बचे रहने के लिए यहां के व्यापारी एक जागरूक नागरिक की जिम्मेदारी निभाते एक बड़ा फैसला लेने वाले हैं।

इस फैसले को लेकर व्यापारियों का भरपूर समर्थन दिख रहा है।

प्रदेश सरकार ने रविवार का लॉकडाउन खत्म कर दिया है। अब व्यापारियों की इच्छा पर निर्भर करता है कि वह अपना व्यापार रविवार को भी खोल सकते हैं।

यहां के व्यापारी संघ के व्हाट्सएप ग्रुप में वेल्डिंग वर्कशॉप के मालिक जितेन्द्र चौकसे ने सबसे पहले यह आवाज उठाई। जिसका समर्थन नगर के अधिकतर व्यापारीयों ने किया।

रविवार को भले ही सरकार ने दुकान खुली रखने की छूट दे दी है। लेकिन हमें घोड़ाडोंगरी रविवार को बंद रखना चाहिए।

क्योंकि कोरोना का वायरस अभी खत्म नहीं हुआ है और यह वायरस कभी भी और अधिक प्रचंड रूप में तीसरी लहर के रूप में फैल सकता है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी तीसरी लहर से सावधान रहने के लिए प्रदेश की जनता से अपील कर रहे हैं।

इस प्रस्ताव को सोनू खनूजा, कमलेश जैन ,सुनील शर्मा ,अनिल भुजवरे, शरीफ अली, एस के यादव ,अनुराग अग्रवाल , नितेश भुजवरे, खेमराज पवार, राहुल साहू,महेंद्र जैन , अरविंद चौरे , सोनू सलूजा ,सौरभ मित्तल , संजय अग्रवाल, हरीष जयसवाल , रामकुमार मालवी, नितिन सोनी, हरेराम मालवीय, ब्रजकिशोर मालवीय ,आदित्य अग्रवाल, सुनील शर्मा ,तोषण गावंडे ,सहदेव नागले , समीर पाठक, रामजीत खरे ,सुनील ,ऋषिका मोबाइल ,राकेश अरोरा, सुनील जैन , प्रमोद मालवीय, विजय साहू ,जितेंद्र भमोडिया, नितिन मालवीय , राजेन्द्र प्रजापति, राजेश मालवीय सहित अन्य व्यापारियों ने अपना समर्थन और सहमति दी है ।

अब घोड़ाडोंगरी में व्यापारियों की यह पहल कितनी सफल होती है इस पर सबकी निगाहें है।