सपन कामला ने कहा कि इस वैश्विक आपदा में जब हर वर्ग अपना व्यवसाय बन्द करके तालाबंदी में अपने अपने घर में रहकर शासन प्रशासन के लॉक डाउन और राष्ट्रीय आपदा अधिनियम “2005” के नियमों का पालन कर रहा हैं तो सरकार को भी अपना राजधर्म का पालन करना चाहिए आज हर नागरिक किसी न किसी रूप से बैंक के कर्ज की EMI से त्रस्त नजर आ रहा हैं जब व्यक्ति पूर्ण रूप से व्यवसाय बन्द करके तालाबंदी में घर पर होगा तो वो बैंक की EMI का भुगतान केसे करेगा ये भी सरकार के द्वारा दी गई एक मानसिक प्रताड़ना ही है जिस पर सरकार का कोई ध्यान नहीं हैं इस गंभीर विषय पर केंद्र सरकार से चर्चा कर उसमें लॉक डाउन की अवधि की समस्त किस्तों में छूट प्रदान करने का कार्य किया जाना सुनिश्चित किया जाए व इस लॉकडाउन में बिजली के बिल लोगों के बंंद पड़े व्यवसाायिक प्रतिष्ठान व घरेलू बिजली बिलों को शिवराज सरकार के द्वारा माफ किया जाना चाहिए जिससे निम्न और मध्यम वर्ग के नागरिकों को
राहत प्रदान की जा सकें।

सपन कामला
जिला उपाध्यक्ष
आम आदमी पार्टी जिला बैतूल।