अवैध रूप से संचालित किए जाने पर 2 पेट्रोल पंप सील
__________________________________________

बिना वैध अनुमति के पेट्रोल पंप के संचालित किए जाने पर खाद्य विभाग होशंगाबाद की टीम द्वारा तत्परता पूर्वक कार्यवाही कर 2 पेट्रोल पंप को सील किया गया है। कलेक्टर श्री धनंजय सिंह के निर्देशानुसार जिले में राशन दुकानों , पेट्रोल पंप आदि के विधिवत संचालन के उद्देश्य से सतत निरीक्षण एवं गड़बड़ी पाए जाने पर कड़ी कार्यवाही की जारी हैं।

इसी क्रम में 31 जुलाई को खाद्य विभाग के जांच दल द्वारा तहसील बाबई के ग्राम आंखमउ स्थित बायो डीजल पंप का औचक निरीक्षण किया गया। बायो डीजल पंप में कोई बोर्ड या नाम प्रदर्शित नहीं था,जांच के समय पंप चोरी छिपे संचालित पाया गया । यह पंप श्री बृजेश मालवीय द्वारा गोरी पेट्रोलियम के नाम से संचालित किया जा रहा था जिसके संचालन की न ही वैधानिक अनुमति ली गई और ना ही अन्य किसी विभाग से संचालन हेतु अनुमति ली गई है ।

पंप के अनाधिकृत संचालन और “परिवहन प्रयोजन हेतु हाई स्पीड डीजल के साथ मिश्रण के लिए बायोडीजल की बिक्री हेतु दिशा निर्देश 2019 “की कण्डिकाओं के उल्लंघन करने के साथ पंप पर भंडारित 3519 लीटर बायोडीजल इसकी कीमत 332615 रुपए है को जप्त किया गया और पंप को सील किया गया है।

दूसरी कार्यवाही में तहसील सोहागपुर ग्राम गुरमखेडी में स्थित बायोडीजल पंप जो कि बंद की स्थिति को प्रदर्शित कर चोरी छिपे बायोडीजल का विक्रय कर रहा था। खाद्य विभाग के दल द्वारा पंप की आकस्मिक जांच की गई जिसमें जांच समय तीन ट्रक डीजल लेने हेतु खड़े पाए गए, पंप के प्रबंधक / मालिक मौके पर नहीं पाए गए । उक्त पंप को भी अनाधिकृत संचालन किए जाने के कारण पंचों के समक्ष सील किया गया है।

दोनों पंपों पर आवश्यक वस्तु अधिनियम 1955 की धारा 3/7 के अंतर्गत कार्यवाही किए जाने हेतु प्रतिवेदन शासन को प्रस्तुत किया गया है। कार्यवाही के दौरान जांच दल में सहायक आपूर्ति नियंत्रक होशंगाबाद श्री अनिल तन्तुवाय,कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी श्री जितेंद्र कुशवाह, श्री आशीष तोमर, श्री शिवसुन्दर व्यास उपस्थित थे।